हरियाणा में पंचायती राज व महत्वपूर्ण संबन्धित प्रश्न

Panchayati Raj in Haryana and important related questions
Panchayati Raj in Haryana and important related questions

Panchayati Raj in Haryana and important related questions

हरियाणा में पंचायती राज से संबन्धित जानकारी व महत्वपूर्ण प्रश्न दिए गए है जो आपकी HSSC (Clerk, Gram Sachiv) की परीक्षाओं में आपकी काफी मदद करेंगे। हरियाणा राज्य 1 नवंबर, 1966 को अस्तित्व में आया और पंजाब ग्राम पंचायत अधिनियम, 1952 हरियाणा में पीआरआई (PRIs) के लिए लागू किया गया।73 वें संवैधानिक संशोधन के बाद, ‘हरियाणा पंचायती राज अधिनियम-1994’ को 1992 में बनाया गया था, जो 22 अप्रैल, 1994 में लागू हुआ।

इसके बाद ‘हरियाणा पंचायती राज चुनाव नियम – 1994 जो कि 24 अगस्त 1994 को तैयार किए गए, इसके बाद ‘हरियाणा पंचायती नियम-1995’, 16 फरवरी, 1998 को अधिसूचित किए गए।

इसके बाद हरियाणा पंचायती राज वित्त बजट / लेखा / लेखा परीक्षा / कराधान और कार्य नियम 1996 भी 14 अगस्त, 1996 को अधिसूचित किए गए। हरियाणा पंचायती राज अधिनियम 1994 के तहत, पंचायती राज संस्थाओं को सभी से संबंधित कर्तव्यों और कार्यों को सौंपा गया है। संविधान की ग्यारहवीं अनुसूची में सूचीबद्ध 29 विषय।

हरियाणा में 3 स्तरीय पंचायती राज पद्धति की व्यवस्था है – ग्राम पंचायत, पंचायत समिति और जिला परिषद्

  • ग्राम पंचायत – 6212
  • पंचायत समिति – 126
  • जिला परिषद् – 21

पंचायती राज से संबन्धित महत्वपूर्ण जानकारी –

  • भारत में पंचायती राज का उदय बलवंतराय मेहता समिति की सिफारिसों के आधार पर हुआ था।
  • भारत में 3 स्तरीय पंचायती राज पद्धति की व्यवस्था की गयी है – ग्राम पंचायत, पंचायत समिति और जिला परिषद्
  • संविधान के भाग-4 में ग्राम पंचायतों की स्थापना की बात कही गई है
  • 73वें संविधान संशोधन के अनुसार पंचायती राज संस्था का कार्यकाल कितने वर्ष रखा गया है? – 5 वर्ष
  • भारत में पंचायती राज अधिनियम कब लागू हुआ? – 24 अप्रैल, 1993
  • पंचायती राज प्रणाली में ग्राम पंचायत का गठन होता है – ग्राम स्तर पर
  • भारत में पंचायती राज व्यवस्था सर्वप्रथम राजस्थान और आंध्रप्रदेश में आरम्भ की गई।
  • पंचायती राज प्रणाली सत्ता के विकेन्द्रीयकरण पर पर आधारित है।
  • पंचायत समिति का मुख्य निष्पादक खण्ड विकास पदाधिकारी होता है।
  • एक विकास खण्ड पर पंयायत समिति एक प्रशासकीय अधिकरण होती है।
  • पंचायती राज का प्रधान लक्ष्य है – ग्रामवासियों में शक्ति का विकेन्द्रीकरण
  • पंचायती राज प्रदान करता है – स्थानीय स्तर पर लोकतांत्रिक प्रशासन
  • पंचायत समिति का गठन होता है – प्रखंड स्तर पर
  • पंचायत समिति के प्रशासन का प्रबन्ध एक सरकारी अधिकारी करता है – खण्ड विकास पदाधिकारी
  • पंचायती राज संस्थान के अधिकतम आय का स्त्रोत है – सरकारी अनुदान
  • पंचायती राज को राज्य के नीति-निर्देशक तत्व के अन्तर्गत स्वशासन की इकाई के रूप में संगठित किया गया।
  • पंचायती राज का मुख्य उद्देश्य है – जनता को विकासमूलक प्रशासन में भागीदारी योग्य बनाना
  • ग्राम सभा पंचायती राज की आधारशिला है।
  • ग्राम पंचायत का निर्वाचन कराना निर्भर करता है – राज्य सरकार
  • पंचायती राज की मुख्य उपलब्धि है – राजनीतिक चेतना का विकास
  • पंचायती राज विषय है – राज्य सूची में
  • भारत में पंचायती राज का प्रारम्भ किया गया – 1959
  • 73वें संविधान संशोधन के अनुसार पंचायती राज संस्थाओं में अध्यक्ष के कम-से-कम कितने पद महिलाओं के लिए आरक्षित किए गए हैं – एक-तिहाई
  • सामान्यतः पंचायत समिति में कितने प्रकार के सदस्य होते हैं – पदेन सदस्य, सहयोग सदस्य, सहयोजित सदस्य
  • पंचायती राज प्रणाली कहाँ नहीं है – अरुणाचल प्रदेश
  • पंचायतों में महिलाओं के लिए स्थान आरक्षित करने को दृष्टि से संविधान में संशोधन करने का सर्वप्रथम बीड़ा किसने उठाया – राजीव गांधी ने
  • 73वें संविधान संशोधन द्वारा पंचायती राज संस्थाओं के लिए किस तरह के चुनाव का प्रावधान किया गया है? – प्रत्यक्ष एवं गुप्त मतदान
  • हरियाणा में पंचायती राज का मध्य स्तर है। – पंचायत समिति
  • _______ ग्राम पंचायत के प्रमुख है। – सरपंच
  • हरियाणा देश का ऐसा पहला राज्य है, जिसने पंचायती राज संस्थाओं का स्वरूप बदलने के साथ-साथ शक्तियों का विकेंद्रीकरण करने के लिए अंतर जिला परिषद गठित की।
  • पंचायत चुनाव में भाग लेने के लिए न्यूनतम आयु कितनी होनी चाहिए? – 21 वर्ष
  • हरियाणा में ई-पंचायत संवाद सेवा शुरू हुई – 26 अप्रैल 2015 को
  • पंचायत चुनाव के लिए शिक्षा संबन्धित लागू करने वाला कौन सा राज्य है ? – राजस्थान के बाद हरियाणा दूसरा राज्य
  • पंचायती राज व्यव्स्थ्ता का वास्तुकार व शिल्पकार – बलवंत राय मेहता
    – बलवंत राय मेहता कमेटी, 1957 में व 1958 में रिपोर्ट में सौंपी।
  • हरियाणा में कितने स्तरीय पंचायती राज पद्धति व्यवस्था है – 3 स्तरीय
    – ग्राम पंचायत (सबसे निचली)
    – पंचायत समिति
    – जिला परिषद (सबसे ऊपरी
  • 3 स्तरीय पंचायती राज व्यव्स्थ्ता लागू करने वाला देश का पहला राज्य – राजस्थान (2 अक्तूबर 1959)
    – दूसरा – आंध्रप्रदेश (9 अक्तूबर 1959), असम, तमिलनाडू, कर्नाटक – 1960
  • अशोक मेहता कमेटी – 1977 में गठित, (1978 में रिपोर्ट सौपी)
    – दो स्तरीय : जिला परिषद, मण्डल पंचायत
    – कार्यकाल – 4 वर्ष
    – पंचायती राज वित्त निगम की स्थापना
  • 73वां संविधान संशोधन 1992 –
  • – गाँव स्तर पर, संविधान के अनुसूची 12, भाग 9 व 29 विषयों को जोड़ा गया।
    – 73वां संशोधन कहाँ-कहाँ पर लागू नहीं है – मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, मणिपुर, दार्जिलिंग, जम्मू-कश्मीर
  • 74वां संविधान संशोधन 1992 –
    – शहरी स्तर पर, संविधान के अनुसूची 12, भाग 9 क, व 18 विषयों को जोड़ा गया।
  • पंचायती राज दिवस कब मनाया जाता है?
    उत्तर – 24 अप्रैल को, (24 अप्रैल 1993 से पूरे देश में पंचायती राज लागू किया गया था)
  • भारत के किन राज्य/राज्यों में पंचायती राज व्यव्स्थ्ता लागू नहीं है?
    उत्तर – मेघालय, मिजोरम, नागालैंड
  • एक स्तरीय पंचायती राज व्यव्स्था किन राज्यों में लागू है?
    उत्तर – केरल, त्रिपुरा, मणिपुर, सिक्किम, जम्मू-कश्मीर
  • चार स्तरीय पंचायती राज व्यवस्था किस राज्य में लागू है?
    उत्तर – पश्चिमी बंगाल
  • अरुणाचल प्रदेश ऐसा राज्य है जहां पर अल्प संख्यकों के लिए पंचायत में आरक्षण लागू है।
  • केरल ऐसा राज्य है जहां पर MP व MLA को पंचायती राज संस्था में पदेन सदस्यता नहीं दी गई है।
  • पंचायती राज मंत्रालय कब बनाया गया?
    उत्तर – 2004 में

जिला अनुसार ग्राम पंचायतों कि संख्या

Panchayati Raj in Haryana and important related questions

क्र सजिले का नामपंचायत
1अंबाला405
2भिवानी461
3फ़रीदाबाद111
4फ़तेहाबाद245
5गुरुग्राम210
6हिसार309
7जींद300
8झज्जर249
9कैथल270
10करनाल372
11कुरुक्षेत्र382
12महेन्द्रगढ़344
13मेवात (नूह)308
14पलवल239
15पंचकुला121
16पानीपत167
17रेवाड़ी351
18रोहतक141
19सोनीपत323
20सिरसा334
21यमुनानगर441
कुल6083

नोट – दी गई सारणी (According to July, 2010) अभी पूरी तरह अपडेटेड नहीं है। इसे जल्द अपडेट किया जाएगा।

पंचायती राज से संबन्धित सामामयिक प्रश्न –

  • वर्ष 2016-2017 में राज्य वित्त आयोग पुरस्कार एवं सामुदायिक विकास के अंतर्गत ग्रामीण विकास क्षेत्र को गरीबी उन्मूलन कार्यक्रम व पंचायती राज संस्थाओ को कितनी परिवय्य राशि आबंटित की है?
    उत्तर – 12 करोड़
  • पंचायत चुनाव में भाग लेने के लिए महिलाओं और अनुसूचित जाति के प्रत्याशी के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता क्या निर्धारित की गयी है?
    उत्तर – आठवीं पास
  • किस राज्य में पंचायत चुनाव में प्रत्याशी के लिए घर में शौचालय अनिवार्य किया गया है?
    उत्तर – हरियाणा
  • वर्ष 2019 के ताजा आंकड़ो के अनुसार हरियाणा की कितनी ग्राम पंचायतों में वाईफाई जोन हैं?
    उत्तर – 176 ग्राम पंचायत। (वर्ष 2019 तक हरियाणा की सभी 6078 ग्राम पंचायतों को Wi-Fi जोन बनाए जाने का लक्ष्य था लेकिन अभी तक केवल 176 ग्राम पंचायतों को ही Wi-Fi ज़ोन में शामिल किया गया है। यह कार्य Haryana Information Technology (IT) and Electronic System Design and Manufacturing (ESDM) Policy के द्वारा किया जा रहा है)
  • अगस्त 2019 में 7-स्टार इन्द्रधनुष योजना के तहत प्रदेश की 5 व 6-स्टार रेटिंग से कितनी पंचायतों को सम्मानित किया गया?
    उत्तर – 78 पंचायतों

District Wise 7-Star Rating Villages

Any information Click Here